Welcome to PRATISHTHA!

भारत विश्वप में सर्वाधिक दुग्धच उत्पाैदक देश है। दुनिया में भारत की भागीदारी दुग्ध् उत्पा दन के क्षेत्र में लगभग 17 प्रतिशत है। भारत अपने 14 राज्यों् से अधिकतम दूध उत्पाधदित करता है जो कि भारत कुल दुग्ध उत्पादन का 92 प्रतिशत है। उत्तर प्रदेश का, भारत में, दुग्ध उत्पादन में पहला स्थान है। देश में डेयरी उद्योग को सामाजिक-आर्थिक परिवर्तन एवं विकास के एक महत्वपूर्ण घटक के रूप में मान्यता दी गयी है| भारत की ग्रामीण अर्थव्यवस्था को सुद्रढ़ करने में कृषि के बाद डेयरी उद्योग की प्रमुख उपयोगिता है| भारत की दुग्ध उत्पादन वृधि दर 4.18 प्रतिशत वार्षिक है जो वैश्विक वृधि दर 2.2 प्रतिशत से दुगना है| प्रतिदिन ग्रामीण भारत में लगभग 30 करोड़ कि.ग्रा. दूध का उत्पा4दन होता है। इसमे से 48 प्रतशित दूध घरेलू उपभोग हेतु उत्पा दकों द्वारा रख लिया जाता है। शेष विपणन योग्या उपलब्ध दूध में से केवल 30 प्रतिशत संगठित दुग्ध् क्षेत्र को जाता है। सहकारी दुग्धन संघ, निजी कम्पमनियां तथा उत्पा दक कम्पतनियां, तीन प्रमुख संगठित दुग्ध क्षेत्र हैं। दूध सभी के लिये मूल पोषण के स्रोतों में से एक है। राष्ट्रग के बेहतर स्वाीस्य्रम हेतु, गुणवत्ता प्रधान दूध प्राप्तक करने के लिए संगठित दुग्धर क्षेत्र एकमात्र स्रोत है। भारत में, दुग्ध उत्पा्दक, दूध के मूल्ये, संगठन में हिस्से‍दारी व आजीविका संवर्धन के लिये संघर्षरत हैं। संगठित क्षेत्रों में उनकी सीधी भागेदारी द्वारा वैध हिस्सेस की प्राप्ति सुनिश्चित की जा सकती है। यह, प्राइवेट लिमिटेड कम्प नी के एक नियामक ढांचे सहित सहकारी प्रचलनों के विशेष अभिलक्षणों को समायोजित करने वाली उत्पादक कम्पननियों के जरिये संभव है। एक उत्पा दक कम्पकनी में, केवल वह उत्पानदक जो कि दूध से जुड़ा या संबंधित क्रिया-कलाप में प्रवृत्त हो, स्वाकमित्वज में भागीदारी पा सकता है। सदस्योंु का कम्प नी अधिनियम, 1956 के अंतर्गत दी गई परिभाषा के अनुसार प्राथमिक उत्पाददक होना अनिवार्य है। अतः, डेरी क्षेत्र में उत्पामदकों की पकड़ कायम रखने के लिए, दुग्धउ उत्पाकदक कम्पयनी के रूप में एक सशक्तष उत्पाादक संगठन का होना अत्यारवश्यवक है। 'प्रतिष्ठा प्रोड्यूसर कम्प्नी लिमिटेड' कम्पकनी अधिनियम 2013 के भाग VII-2 के अंतर्गत 28 जून 2016 को निगमित की गई थी। वर्तमान में, कम्प‍नी उत्तर प्रदेश के पश्चिम उत्तर प्रदेश के ज़िलों में अपने कार्यों का संचालन कर रही है और प्रतिदिन उत्तर प्रदेश के 2,400 गांवों में फैले हुए अपने उत्पाजदक-सदस्यों से औसत 1,00,000 लीटर ताज़ा कच्चा दूध एकत्रित करती है।

Read More

  • Manufacture Unit : Dilra Raipur Rampur Road Moradabad (U.P)

  • Corp. Office : 514 & 515, Laxmi Deep Building 5th Floor
  • Laxmi Nagar District Center, Near
  • Nirman Vihar Metro Station & V3S Mall Delhi

  • Phone No. : 011-41315707
  • Mobile No. : 9899733731, 7534844766
  •  

Follow us @

© 2017 All Rights Reserved with PRATISHTHA DAIRY FARM PVT.LTD.